खुद को पूरी तरह बदलने के 7 तरीके

बधाई हो खुद को बदलने का पहला कदम आप पार कर चुके हैं। लेकिन कैसे? क्योंकि आप यह मानते हैं कि आपने कोई बुरी आदत है जिसे आप को बदलने की जरूरत है। लोग अक्सर जिंदगी भर वैसे ही रह जाते हैं जैसे वह हैं। क्योंकि वे यह मानते ही नहीं कि उनमें कोई कमी है जिसे उन्हें बदलने की जरूरत है।

हम सभी में कोई न कोई कमी होती है, ऐसा कोई इंसान नहीं जो यह कह दे कि उसमें कोई कमी नहीं और उसे बदलने की जरूरत नहीं। यह कमी या बुरी आदत कुछ भी हो सकती है जैसे कि शराब पीना, सिगरेट पीना, झूठ बोलना, गुस्सा करना, खर्चीला होना, ज़्यादा खाना या फिर सबसे बुरा व्यवहार।

यह याद रखना कि खुद को बदलना एक ongoing प्रोसेस है। मतलब कि यह कभी न रुकने वाली प्रक्रिया है। आप अपनी एक आदत बदलने के बाद दूसरी आदत बदलने की ओर कदम बढ़ाएंगे। और जो आदत successfully बदल चुके हैं उसको भी recheck करते रहेंगे।

हम आगे कुछ ऐसी points discuss करेंगे जिनकी मदद से आप खुद में बदलाव ला सकते हैं।

1. खुद को reveiw करें:

अगर आपकी life में सेहत, पैसे, रिश्ते, या career को लेकर परेशानियां हैं, तो अपने करीबी दोस्तों से सच्ची सलाह लें। लेकिन उसके लिए आपको कड़वे सच सुनने के लिए भी तैयार रहना होगा। और फिर सलाहकार को भूल जाए केवल सलाह को याद रखें।

उस व्यक्ति को यकीन दिलाएं कि आप उस पर गुस्सा नहीं होंगे और आपको केवल सच सुनना है। और फिर सच सुनने के बाद उस पर गुस्सा ना हो।

2. अच्छे दोस्त बनायें:
हाल ही में हुए एक रिसर्च के मुताबिक, जिस तरह के लोगों के साथ आप अपना time spend करते हैं, इसका असर आपकी अच्छे या बुरे habits पर पड़ता है। आप क्या खाते हैं क्या पीते हैं क्या सोचते हैं, यह इस बात पर बहुत depend करता है कि आपके दोस्त की आदतें कैसी हैं।

इसलिए बहुत जरूरी है कि आप अच्छे दोस्त बनाएं, जिन से आप अच्छी आदतें सीखे। और बुरे दोस्तों से जल्द से जल्द पीछा छुड़ाएं।

इसका सबसे बेहतर तरीका है कि आप एपीजे अब्दुल कलाम, स्टीव जॉब्स, महात्मा गांधी, रतन टाटा जैसे लोगों से इंस्पिरेशन लें उनको अपना दोस्त बनाएँ उनकी लिखी गईं किताबें पढ़ कर।

3. छोटे goals बनाएं:
गोल्स दो तरह के होते हैं long term goal और short term goals. लोंग टर्म गोल्स को पूरा करने के लिए ज्यादा motivation और efferts की जरूरत होती है जो लंबे समय तक बनाए रखना बहुत कठिन होता है। वहीं दूसरी तरफ small goals को पूरा करना आसान होता है जिससे कि हम हर दिन कुछ बेहतर बनते जाते हैं।

उदहारण के लिए, आने वाले एक साल के लिए बड़े बड़े goals बनाने से बेहतर है कि आप अगले १हफते और १ दिन के लिए छोटे गोल्स

4 Distractions से बचें
खुद को बदलने के लिए हम कदम तो उठा लेते हैं। अच्छा खासा प्लान भी तैयार कर लेते हैं। लेकिन सबसे पहले जो हमारा रास्ता रोकती है वह है डिस्ट्रक्शंस। यह हमारा समय बर्बाद होने की सबसे बड़ी वजह है।

आपमें काबिलियत तो बहुत है, अगर आप कोशिश करो तो बहुत कुछ हासिल कर सकते हो। लेकिन जब भी हम कुछ ज़रूरी काम करना शुरू करते हैं तो हमारा ध्यान और दूसरी चीज़ों में भटक जाता हैं जैसे facebook, instagram, whatsapp या ऐसे ही youtube वीडियो देखने लग जाना। और इसमें कैसे घंटो निकल जाते है और हमें पता भी नहीं चलता।

सबसे पहले तो ये जाने के आपको कौन सी चीजेँ distract करती हैं और फिर खुद में अनुशासन लाएं। अगर आपको अपना weight lose करना है तो आपको जंक फ़ूड से दूर रहने होगा चाहे आपका कितना ही मन हो।

अपने मन को मरने से ही आपमें अनुशासन आएगा और आप कुछ हासिल कर सकते हैं।

5. बलिदान देने के लिए तैयार रहे:
कुछ भी आसानी से नहीं मिलता। वह कहावत तो आपने सुनी होगी कुछ पाने के लिए कुछ खोना पड़ता है। अगर आप अपनी life में बदलाव लाना चाहते हैं तो इसके लिए आपको कड़ी म्हणत करनी होगी, कुछ ऐसे बलिदान देने होंगे जो कि आपके लिए बहुत मुश्किल भी हो सकता है।k

अगर आपको अपने अंदर अच्छे बदलाव लाने हैं तो आपको बुरी आदतों से छुटकारा पाना होना और यह बहुत कठिन हो सकता है क्योंकि आपको इसकी आदत पड़ चुकी है। लेकिन इस बलिदान का फल भी अंत में आपको मिलेगा।

6 अपने progress का ऑडिट करें:
दूसरे लोगों को naturally आपमें बदलाव दिखने लगेंगे। लेकिन इससे पहले कि और लोग आपको बताएं, आप खुद अपना परीक्षण करें और देखें कि पहले दिन से अब तक आप में कितनी प्रोग्रेस हुई है। और अपनी प्रोग्रेस के लिए खुद को शाबाशी दे।

केवल आप ही अपने बारे में ईमानदारी से सच बता सकते हैं। लेकिन आप दूसरों से भी सलाह ले सकते हैं। यह देखें कि कोनसे बदलाव आपमे अच्छे से आगए हैं और कौन से बदलाव लाना बाकि है, और आपको किन मुश्किलों का सामना का सामना करना पड़ा और कौन सी मुश्किलों का सामना करना पड़ सकता है।

7 याद रखें कि आपने कहाँ से शुरू किया था:

अगर आप अपने आपको लगातार यह याद दिलाते रहेंगे कि आपने कहाँ से शुरू किया था तो आपको आगे और बेहतर करने के लिए शक्ति मिलती रहेगी। और आप यह नहीं चाहेंगे कि आपके सामने फिरसे पहले जैसी सिचुएशन आजाए।

अपने गोल्स को पा लेने के बाद भी मुड़कर अपने सफर को ज़रूर देखें और याद रखें कि आपने किसी कारण से शुरू किया था यह बदलाव। क्योंकि जितना मुश्किल बुरी आदतों को छोड़ना है उतना ही मुश्किल अच्छी आदतों पे टिके रहना है। अपनी पुरानी आदतों को याद करके आपको प्रेरणा मिलेगी जिससे की आप अपनी लाइफ में आगे और बेहतर करेंगे।

अंतिम शब्द

चाहे आपका अतीत कितना ही बुरा रहा हो, लेकिन अब आप खुद को बदलने की ओर बढ़ चुके हो, तो दुनिया को यह साबित कर दो कि आप अपने लिए बेहतर फैसले लेने वाले एक बेहतर इंसान बन चुके हो।

यह भी याद रखें कि जो बदलाव आप में आए उसे बनाए रखने के लिए खुद में अनुशासन लाना भी ज़रूरी है ताकि आपकी यह नै वाली personality बानी रहे। और आप अपने अंदर के इस बदलाव को पूरी तरह enjoy कर सके।

 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *