अमीर लोगों की 6 आदतें

ऐसी कौनसी बातें हैं जो एक अमीर को अमीर और एक ग़रीब इंसान को ग़रीब बनती है? क्या उनमें सिर्फ पैसों का ही फर्क होता है या सोंच और आदतों का भी? अगर आप किसी अमीर व्यक्ति के साथ वक़्त गुज़ारेंगे तो पाएंगे कि वह लोग कुछ अलग सोंच और आदत रखतें हैं जिनके कारण वह लोग ज़्यादा कामियाब हो पाए।

अगर आप एक अमीर और एक ग़रीब व्यक्ति में केवल एक अंतर, सिर्फ और सिर्फ एक अंतर जानना चाहते हैं जो कि सबसे बड़ा और सबसे महत्वपूर्ण अंतर है वो यह है कि अमीर इंसान आगे का सोचता है, मतलब 4 साल 5 साल या 10 साल या उससे भी बाद का और एक ग़रीब इंसान आज का सोचता है, अभी का सोचता है।

अमीर long vision रखता है अगर मैं आज से 10 साल तक इतना time दूंगा इस काम को, इतनी मेहनत करूँगा और इतना पैसा लगाऊंगा तो अगले 10 साल बाद मेरी position क्या होगी। बल्कि एक गरीब इंसान इसका बिलकुल उल्टा सोचता हैं। इसके बारे में हम आगे विस्तार से बात करेंगे, पहले जानते हैं ऐसी 6 आदतें जो कि अमीर व्यक्ति में होती हैं:
करें।
1. इच्छा शक्ति:
हम ऐसा देखते हैं कि जितने भी successful लोग दुनिया में रहे हैं उनकी इच्छा शक्ति बहुत मज़बूत रही है, इच्छा शक्ति असल में क्या है, किसी भी मुश्किल से मुश्किल काम को कर दिखने का हमारा जूनून, हमारा आत्मविश्वास और लगन ही इच्छा शक्ति है।

अपने देखा होगा कि कई बचे बहुत कुछ पढ़ने के बाद भी इतने काम मार्क्स लाते है और कुछ बच्चे थोड़ा पढ़कर और खेल कूदकर भी अच्छे marks ले आते हैं, उनमे इच्छा शक्ति strong होती है कि चाहे मुझे जितना आता है उतना ही लिखू, लेकिन छोड़ना एक भी सवाल नहीं हैं।

इसका ये मतलब नहीं है कि बच्चे काम पढ़ें लेकिन कई बार skill या talent से ज़्यादा इच्छा शक्ति काम आती है। एक बहुत मशहूर बॉक्सर का कहना है कि skill महत्वपूर्ण नहीं है will है, अगर सामने वाले opponent ने मुझे गिरा दिया तो मेरे skill ने तो मुझे हरा दिया, अब मेरी will यानि इच्छा शक्ति मुझे उठाएगी।

जो इंसान अपने अंदर की इच्छा शक्ति खो दे उसका talent भी किसी काम का नहीं और जिसमे इच्छा शक्ति हो वो काम skills से भी कमाल कर सकता है।

2. नई चीज़ें try करना:
जितने भी बड़े genius और scientists रहे हैं उनमे एक बात सभी में कॉमन है कि उन्हें नई नई चीज़ें try करते रहना अच्छा लगता था, वे पुरानी चीज़ों से बहुत जल्दी bore हो जाते थे।

जितनी भी बड़ी companies जो successful हैं, जैसे कि Tesla, Apple, Reliance, या Microsoft, सभी अपनी Research and Development में बहुत पैसा लगाती है, नई नई product या service create करते हैं उनमे नए features create करते हैं। बार बार वही पूरानी चीज़ें नहीं दोहराते जो बाकि companies करती आ रही हैं।

आप भी अपने अंदर नई चीज़ें करने की आदत डालें, ऐसी चीज़ें जो दूसरों की life में कुछ value add करें। उन चीज़ों को और बेहतर करने के लिए उन्हें वक़्त दें। दूसरों से कुछ हटकर सोचें॥ हमारा mind हमें अक्सर नए नए ideas देता रहता है।। उन ideas पर काम करें और रिसर्च करें।

3. खुद पर यकीन रखना:

यह एक बहुत ही खास बात होती है हर कामियाब इंसान की, चाहे कैसी भी सिचुएशन हो उन्हें हमेशा खुद पर यकीन होता है। कोई भी काम हो कैसा भी काम उनके सामने आजाये जो वो यही कहते हैं कि है मैं यह कर लूंगा।

आम लोगो की आदत इनसे उलट होती है, सबसे पहले तो वो किसी काम को देख कर यही कहते हैं कि उनके पास वक़्त नहीं हैं, और अगर वक़्त मिल भी जाए तो उन्हें लगता है कि काम बहुत मुश्किल है और उस काम को वही छोड़ देते हैं।

किसी भी काम की शुरुआत उसे करने से नहीं होती, किसी भी काम की शुरुआत उसे कर पाने के यकीन से शुरू होती है। जब हम यह यकीन कर लेते हैं कि हम यह काम कर सकते हैं तब हमारा mind dopamine नाम का एक harmone release करता है जिससे वह काम हमें आसान लगने लगता है।

4. लीडरशिप क्वालिटीज़:

एक कामियाब इंसान की personality और characteristics बहुत ही strrong होनी चाहिए जो न केवल अपने बारे में सोंचे बल्कि दूसरों के बारे में भी सोंचे। जब कोई इंसान कामियाब होता है तो उसकी कामियाबी के पीछे कई लोगो की मेहनत जुडी होती है। तो उसे उन सभी लोगो को भी श्रेय देना चाहिए।

ऐसी ही कुछ स्ट्रांग पर्सनालिटी थे Apple के founder Steve Jobs की, वह अपनी कंपनी के acheivement का श्रेय अपनी टीम को देते थे, वह future की सोंच रखते थे और हर मुश्किल काम के लिए पुरे विश्वास से तैयार रहते थे, उनमे अपने टीम को साथ लेकर चलने की leadership qualities थी। वह 10 चीज़ों पर ध्यान लगाने की बजाय बस उसी एक काम पर फोकस रखते थे जिसमें वह talented थे, बाकि के काम वह दूसरे talented team members को दे देते थे।

एक succesful इंसान बनने के लिए ऐसे ही strong personality और character का होना बहुत ज़रूरी है। जिसमे हर तरह के situation को deal करने की काबिलियत हो। जो ऐसी बातो को न कह सके जो उसके लिए ज़रूरी नहीं क्योंकि समय बहुत कीमती होता है।

5. उन्हें किताबें पढ़ना और सीखते रहना अच्छा लगता है:

Warren Buffet जो की एक बेहद कामियाब इन्वेस्टर हैं उन्हें देखकर आप लोग क्या कहेंगे, के इन्हें तो investing का सब कुछ पता है लेकिन वह ऐसा नहीं मानते, जितने भी कामियाब इंसान हैं Bill Gates, mark zuckerberg, Elon Musk आदि सभी में अबतक किताबें पढ़ने की आदत हैं और यह मानते हैं कि सीखने को बहुत कुछ है जो कि उन्हें humble बनती है।

और आम लोगो जो कि teacher, डॉक्टर, इंजीनियर बन चुके हैं अच्छा कमाते हैं, उसके बाद वह लोग सीखना और पढ़ना बंद कर देते हैं और कहते हैं कि उन्हें सब पता है, उन्हें और सीखने की ज़रूरत नहीं जो कि उन्हें और आगे जाने से रोकती हैं।

सीखते रहना एक ऐसी आदत है जो कि सिर्फ कम उम्र के लोगों के लिए ज़रूरी नहीं बल्कि हर उम्र के लोगों के लिए ज़रूरी है बल्कि कामियाब होने के बाद भी।

6. आत्मविश्वास

इंसान को कामियाब होने के लिए खुद पर भरोसा रखना बहुत ज़रूरी है। अगर खुद पर भरोसा हो तो इंसान ऐसे-२ काम को अंजाम दे सकता है जो वह सोंच भी नहीं सकता। लेकिन हमें confidence और over confidence में फर्क समझने की ज़रूरत है, आपको कोई काम आता है फिर आप कहते हो कि हाँ मैं कर लूंगा या अगर नहीं भी आता तो आप कहो कि मैं कोशिश करू और सीखू फिर कर सकता हूँ, तो यह है कॉन्फिडेंस। लेकिन अगर आपको कोई काम आता ही नहीं और आप कहो कि है इसमें कौन सी बड़ी बात है कर लेंगे, तो वो है over confidence.

confidence हमेशा उसी काम को करने में आता है जिस काम में आपका interest हो, जो आपका passion हो, जिस काम में आपको मज़ा आए। अब ऐसा नहीं होना चाहिए कि आपको अमीर बनना तो पसंद है लेकिन उसके लिए जो काम करना है वो नहीं पसंद, ऐसा business होना चाहिए जिसे करने में आपको ख़ुशी मिले तभी आप में वो कॉन्फिडेंस आ सकता है। न कि ये सोंच कर कि सब कर रहे हैं इसलिए मैं भी कर लू या इसमें ज़्यादा पैसा है इसलिए।

लेकिन बहुत से लोग ऐसे भी होते हैं जिन्हें knowledge तो बहुत होती है लेकिन उससे related कोई भी काम करने से डरते हैं और जब उनकी जगह वही काम कोई और करके अमीर हो जाता है तो सोचते हैं अरे मैंने भी यही सोचा था पर किया नहीं और फिर वह पीछे रह जाते हैं। इसलिए confidence लाने के लिए अपने अंदर के डर को ख़त्म करें।

एक अमीर और कामियाब इंसान में कई ऐसी बातें हो सकती हैं लेकिन ये कुछ ऐसे characteristics थे जो की ज़्यादातर सफल लोगों में देखी गई हैं। इन चीज़ों को अपनी life में apply कर के आप भी वो हासिल कर सकते हैं जो आप हासिल करना चाहते हैं।

Leave a Comment

Your email address will not be published.